अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. तारिक मंसूर ने कोविड-19 की महामारी को देखते हुए जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बुनियादी ढांचे और बच्चों तथा अन्य लोगों से सम्बन्धित चिकित्सा सुविधाओं के उन्नयन हेतु एक समिति का गठन किया है। 12 सदस्यीय समिति में एएमयू रजिस्ट्रार श्री अब्दुल हमीद आईपीएस (संयोजक), विश्वविद्यालयContinue Reading

प्रोफेसर मोहम्मद नसीरुद्दीन के निधन पर शोक अलीगढ़,16 मईः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के फार्माकोलॉजी विभाग के प्रोफेसर मोहम्मद नसीरुद्दीन का अलीगढ़ में निधन हो गया। वह 55 साल के थे। एएमयू के कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने कहा कि प्रोफेसर नसीरुद्दीन का निधन विश्वविद्यालय के लिए एक बड़ीContinue Reading

एएमयू कार्यालय 23 मई तक बंद रहेंगे अलीगढ़, 16 मईः उत्तर प्रदेश सरकार के कोरोना तालाबंदी के आदेशों के अनुसार अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कार्यालय 23 मई तक बंद रहेंगे। एएमयू रजिस्ट्रार श्री अब्दुल हमीद (आईपीएस) द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार चिकित्सा सेवाएं, स्वच्छता, पानी और बिजली, आवासीय हॉल सेवाएं, केंद्रीय ऑटोमोबाइल कार्यशाला, टेलीफोन विभाग, प्रॉक्टर कार्यालय, भूमि और उद्यान विभाग, कंप्यूटर केंद्रContinue Reading

29 ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर्स जेएनएमसी को दान किए गए अलीगढ़ : कोविड महामारी से निपटने में सहायता प्रदान करने के लिए विभिन्न परोपकारी संगठनों और व्यक्तियों ने जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कालेज को 29 आक्सीजन कंसेंट्रेटर्स दान किये हैं। जेएन मेडिकल कालेज के प्रिंसिपल और सीएमएस, प्रोफेसर शाहिद अली सिद्दीकी के अनुसार शहर के प्रसिद्ध उद्योगपति और परोपकारी, श्री मोहम्मद जफरContinue Reading

  मै, इस वजह से बोल रहा हूँ; की सच कोई लेहाँज़न बोलना नहीं चाहता। हर अलीग़ हो या सरकारी मुसलमान चाहता है ‘पड़ोसी के घर मुजाहिद पैदा हो’ हम सब अल्लाह से दुआ करें, इस चार साल ए॰एम॰यू॰ के इतिहास में दोहराई ना जाए। पठन पाठन के अलावा श्रीContinue Reading

Aligarh, November 22: The mixed entrance exams for admission to Class XI (Science)/Diploma in Engineering and Class XI (Commerce and Arts/Humanities) at the Aligarh Muslim University (AMU) had been these days held following all the Standard Operating Procedures (SOPs) of the Union Health Ministry to stop the Covid-19 spread. 18176Continue Reading

Aligarh, November 21: ‘Kahani Punjab’, the Punjabi language literary journal dedicated to discover new frontiers of literature, inventive criticism and aesthetic impact whilst traversing past dimensional and linguistic confines done every other milestone with the launch of the 0.33 quantity of its a hundredth edition. It showcases the essential acuityContinue Reading