ए॰एम॰यू॰ कुलपति कार्यालय के श्री तारिक मंसूर के असफल कुलपति के चार साल पूर्ण होने पे बधाई ? : जसीम मोहम्मद

Views: 10 665
Spread the love

 

मै, इस वजह से बोल रहा हूँ; की सच कोई लेहाँज़न बोलना नहीं चाहता। हर अलीग़ हो या सरकारी मुसलमान चाहता है ‘पड़ोसी के घर मुजाहिद पैदा हो’

हम सब अल्लाह से दुआ करें, इस चार साल ए॰एम॰यू॰ के इतिहास में दोहराई ना जाए। पठन पाठन के अलावा श्री तारिक मंसूर जी के कार्यकाल में सभी वो काम हुए जो एक प्रतिष्ठित विश्विधलाय में कभी नहीं होती।
MHRD के NIRF रैंकिंग के 10वाँ स्थान से 31वाँ स्थान पहुँचाने वाला 100साल में पहला कुलपति श्री तारिक मंसूर जी का नाम असफल, लोकतांत्रिक ढाँचा को समाप्त करने वाला, छात्र विरोधी, शिक्षा विरोधी, सस्ती लोकप्रियता के भूखा के रूप में जाना जाएगा।

वो सभी सज्जन भी उतना ही ज़िम्मेदार है जिसने ऐसे व्यक्ति को ई॰सी॰ और कोर्ट से चुनकर इस इदारे के बेहतरी के लिए चुना, लेकिन कुछ और हो गया।

एक किताब लिख रहा हूँ, जल्दी प्रकाशित भी करूँगा। श्री तारिक मंसूर जी के कार्यकाल में एएमयू को कितना नुक़सान पहुँचा (प्रूफ़) के साथ।

अल्लाह हमेशा ज़ालिम सरकारी मुसलमान से और कोरोना जैसी बीमारी से इंसानियत को बचा- आमीन

ख़ैर, एएमयू कुलपति श्री तारिक मंसूर, हमेशा रहने वाले वीसी कार्यालय के OSD श्री असफ़र अली खान जी, वी॰सी॰ के ओएसडी प्रो अब्दुल सलाम जी और तमाम चापलूसी के शौक़ रखने वाले साहेब को चार वर्ष पूर्ण होने पे अफ़सोसनाक बधाई!

एएमयू पाईंदाबाद!

जसीम मोहम्मद
पुरातन छात्र
पूर्व मीडिया सलाहकार, एएमयू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *